Apr 10, 2018

आई.आर.एन.एस.एस.-1आई

आई.आर.एन.एस.एस.-1आई.  आई.आर.एन.एस.एस. अंतरिक्ष खंड में शामिल होने वाला आठवाँ नौवहन उपग्रह  है।  इसके पुर्वगामी उपग्रहों आई.आर.एन.एस.एस.-1ए, 1बी., 1सी, 1डी, 1ई, 1एफ, और 1जी को पी.एस.एल.वी.-सी 22, पी.एस.एल.वी.-सी 24, पी.एस.एल.वी.-सी 26, पी.एस.एल.वी.-सी 27, पी.एस.एल.वी.-सी 31, पी.एस.एल.वी.-सी 32, एवं पी.एस.एल.वी.-सी 33 द्वारा क्रमश:, जुलाई, 2013, अप्रैल 2014,  अक्‍तूबर 2014, मार्च 2015, जनवरी 2016, मार्च 2016, एवं अप्रैल 2016, में प्रमोचित किया गया था।  अन्‍य सभी आई.आर.एन.एस.एस. उपग्रहों की तरह ही आई.आर.एन.एस.एस.-1आई. का भी उत्‍थापन भार 1425 कि.ग्रा. है। आई.आर.एन.एस.एस.-1आई. का संरूपण आई.आर.एन.एस.एस.-1ए, 1बी., 1सी, 1डी, 1ई, 1एफ, और 1जी के समान है।

नीतभार: अपने अन्‍य पुर्वगामी आई.आर.एन.एस.एस. की तरह, आई.आर.एन.एस.एस.-1आई. भी दो प्रकार के नीतभार - नौवहन एवं परासन, का वहन करता है । आई.आर.एन.एस.एस.-1आई. का नौवहन नीतभार स्‍थान, वेग एवं समय निर्धारित करने हेतु सिगनल भेजता है। यह नीतभार एल5-बैंड तथा एस-बैंड में प्रचालन करता है। रुबीडियम परमाणु घडि़याँ इस उपग्रह के नौवहन नीतभार के भाग हैं। आई.आर.एन.एस.एस.-1आई. के परासन नीतभार में सी-बैंड प्रेषानुकर है, जो उपग्रह की परिशुद्ध रेंज निर्धारित करने में सहायक है। यह लेजर परासन हेतु कोण घनाभ रेट्रो परावर्तकों (कॉर्नर कोन क्‍यूब रेट्रो रिफ्लेक्‍टर) का वहन भी करता है।  

आई.आर.एन.एस.एस.-1आई. का गुरुवार 12 अप्रैल, 2018 को 04:04 बजे(भा.मा.स.) तड़के

एस.डी.एस.सी. शार, श्रीहरिकोटा से प्रमोचन किया गया।

निर्माता / Manufacturer: 
ISRO
स्‍वामी / Owner: 
ISRO